आजकल शादी करना कोई बच्चों का खेल नहीं है कि कम पैसों में अच्छी शादी हो सके। विशेष तौर पर लड़कियों की शादी पर परिवार का काफी खर्चा हो जाता है। अगर परिवार आर्थिक रूप से कमजोर हो तो समस्या और भी बढ़ जाती है, कई बार तो लड़की की शादी करने के लिए पिता को अपना घर, जमीन बेचने पर मजबूर हो जाते हैं। ऐसे ही परिवार वालों के लिए कुछ राज्य सरकार ने शादी अनुदान योजना का शुभारंभ किया है।

सरकार इसे जरूरतमंद परिवार तक पहुंचाने की कोशिश में जुटी है। इसका लाभ लेने के लिए आप एक वेबसाइट पर पंजीकरण करते हैं और उसके बाद खाते में सीधा पैसा डाला जाता है। इस योजना में एक परिवार से अधिकतम दो लड़कियों की शादी हो सकती है। शादी अनुदान योजना उत्तर प्रदेश, बिहार, छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र व अन्य में चलती है। तो मैं आज उत्तर प्रदेश की शादी अनुदान योजना के बारे में बात करूंगी।

UP Shadi Anudan क्या है?

UP Shadi Anudan एक विवाह योजना है, जोकि उत्तर प्रदेश सरकार ने 2016 में शुरू की है। इस Shadi Anudan योजना को मैरिज ग्रांट या vivah anudan योजना के रूप में भी जाना जाता है। परियोजना का मुख्य उद्देश्य कम आय वाले सामान्य, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति वर्ग, अन्य पिछड़ा वर्ग, अल्पसंख्यक वर्ग समुदायों से बेटियों की शादी के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करना है।

Shadi Anudan योजना परिवार के लिए बहुत लाभकारी है, क्योंकि कुछ वित्तीय समस्याओं के कारण माता-पिता अपनी बेटी की शादी नहीं कर पाते हैं। लेकिन अब इस शादी अनुदान योजना up के माध्यम से अपनी बेटी की शादी कर सकते हैं। यह योजना मूल रूप से उन परिवारों के लिए है, जो विवाह के लिए आर्थिक रूप से सक्षम नहीं हैं। इसमें लड़की की आयु 18 वर्ष वे लड़के की आयु 21 वर्ष होनी जरूरी है।

उत्तर प्रदेश की सरकार सीधे तौर पर shaadi anudaan योजना की अनुदान राशि का भुगतान आवेदक के बैंक खाते में करती है। यह योजना उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा पूरी तरह से अधिकृत और कम्प्यूटरीकृत है। सभी जिला मजिस्ट्रेटों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से  100% लक्ष्य को पूरा करने के लिए निर्देशित किया गया है।

योजना का नामशादी अनुदान
राज्यउत्तर प्रदेश
योजना राशि51,000 / – रु।
सरकारी वेबसाइटwww.shadianudan.upsdc.gov.in
किस वर्ष में शुरू किया2016
किसके द्वारा लॉन्च किया गयायूपी के सीएम अखिलेश यादव

UP Shadi Anudan रजिस्ट्रेशन, लाभ और जरुरी दस्तावेज

Kanya Vivah Yojana का लाभ लेने के लिए, लोगों को शादी के तीन महीने से पहले इसके लिए आवेदन करना होगा।  इस योजना के लिए अपनी बेटी की शादी के 90 दिनों से पहले और शादी के 90 दिनों के बाद आवेदन कर सकता है।

सभी दस्तावेज चेक होने के बाद व पूरी प्रक्रिया हो जाने के बाद, उत्तर प्रदेश सरकार परिवार को 51,000 रु. की सहायता करते हैं इसमें एक परिवार से केवल दो बेटियां को यह योजना प्रदान की जाती है। UP Shadi Anudan योजना के तहत, लोगों को विवाह योजना की पूरी प्रक्रिया से अवगत कराना होगा। परियोजना की पूरी प्रक्रिया सरकारी वेबसाइट पर घोषित की गई है।

Note- योजना की राशि हर साल के बजट के अनुसार रखी जाती है यह अस्थाई नहीं है।

UP Shadi Anudan Online Registration कैसे करें?

आवेदक Shadi Anudan की सरकारी वेबसाइट के माध्यम से  Shadi Anudan Online Registration (रजिस्ट्रेशन) कर सकते हैं। रजिस्ट्रेशन फॉर्म साइट पर उपलब्ध है। आवेदक को शादी के 90 दिनों से पहले इस योजना के लिए आवेदन करना होगा। पंजीकरण प्रक्रिया है-

1. Shadi Anudan online के लिए उनकी सरकारी वेबसाइट www.shadianudan.upsdc.gov.in पर जाएं और उसके पश्चात योग्यता के आधार पर नया पंजीकरण (न्यू रजिस्ट्रेशन) के नीचे अपनी श्रेणी के आधार पर क्लिक करें।

1. नया पंजीकरण (न्यू रजिस्ट्रेशन)

2.अपने जाति वर्ग श्रेणी पर क्लिक करने के बाद अब आपको shadi anudan up का एप्लीकेशन फॉर्म प्रदर्शित होगा। और ऊपरी हिस्से में आवेदक का विवरण भरें।

2. एप्लीकेशन फॉर्म

3. आवेदक का विवरण भरने के बाद नीचे के हिस्से में शादी का विवरण, वार्षिक आय का विवरण, बैंक का विवरण भरकर “Save” पर क्लिक करें।

3. Save पर क्लिक करें

4. एप्लीकेशन फॉर्म जमा करने के बाद आवेदक को पंजीकरण संख्या (एप्लीकेशन संख्या) प्राप्त होगी उसे अपने पास लिख ले, उसके पश्चात वापस होम पेज पर जाएं और वहां आवेदन पत्र को प्रिंट करने के लिए क्लिक करें।

4. आवेदन पत्र को प्रिंट करने के लिए क्लिक

5. आवेदन पत्र को प्रिंट करने का फॉर्म प्रदर्शित होगा लेकिन उससे पहले आपको अपना पासवर्ड जनरेट मतलब पासवर्ड को बनाना होगा। यह बहुत आसान है, पासवर्ड जनरेट करने के लिए आपको “Generate Password” पर क्लिक करना होगा।

5. पासवर्ड जनरेट

6. इसके पश्चात आपको एक और फॉर्म प्रदर्शित होगा। जिसमें अपनी वर्ग श्रेणी का चयन करें, एप्लीकेशन नंबर, बैंक अकाउंट नंबर, नाम, शादी की दिनांक और उसके बाद नीचे दिए गए 5 अंकों का कोड भरकर “Generate” पर क्लिक कर दें। आपको पासवर्ड प्राप्त हो जायगा। आप अपने पासवर्ड को अपने पास लिख ले।

6. पासवर्ड जनरेट के लिए

7. पासवर्ड प्राप्त होने के बाद आपको एक स्टेप पीछे जाना है और वहां आपको एप्लीकेशन नंबर, बैंक अकाउंट नंबर, प्राप्त हुआ पासवर्ड डालें और नीचे दिए गए 5 अंकों का नंबर भरकर “Login” पर क्लिक करें। और आवेदन फॉर्म प्रिंट करें।

7. Login पर क्लिक करें।

काम पूरा होने के इसके पश्चात आवेदन किया हुआ प्रिंट और अपने सभी दस्तावेजों को समाज कल्याण विभाग में 10 से 15 दिन के भीतर जमा करा करना होता है। जिससे विभाग आपके सभी दस्तावेज चेक करे और आपको योजना का लाभ मिल सके।

UP Shadi Anudan के लिए जरूरी दस्तावेज

UP Shadi Anudan योजना के लिए कुछ आवश्यक दस्तावेज। लोगों को रजिस्ट्रेशन फॉर्म के साथ इन दस्तावेजों को जमा करना होगा।

  1. आवेदक का फोटो की jpeg file (Size –1 KB से 40 KB तक)  फोटो रीसाइज करें 
  2. लड़की की फोटो की jpeg file (Size – 1 KB से 40 KB तक)
  3. आवेदक का पहचान पत्र की PDF File (Size – 1 KB से 500KB तक)
  4. आवेदक के बैंक पासबुक की PDF File (Size – 1 KB से 500KB तक)
  5. आवेदक के आय प्रमाण-पत्र की PDF File (Size – 1 KB से 500KB तक)
  6. आवेदक के जाति प्रमाण-पत्र की PDF File (Size – 1 KB से 500KB तक)
  7. शादी प्रमाण-पत्र/कार्ड की PDF File (Size – 41 KB से 500KB तक) (यदि आप शादी के बाद अप्लाई करते हैं तो प्रमाण-पत्र दें)
  8. लड़की की आयु से सम्बन्धित प्रमाण पत्र (जैसे शिक्षा संबंधित प्रमाण पत्र/मतदाता पहचान पत्र/ आधार कार्ड की फ़ोटो कॉपी एवं चिकित्साधिकारी द्वारा घोषित प्रमाण पत्र)

Note- यदि उपरोक्त लड़की की आयु प्रमाण पत्र उपलब्ध न होने की दिशा में लड़की की आयु का सत्यापन नीचे दिए गए प्रारूप में ग्राम पंचायत अधिकारी / खंड विकास अधिकारी से करा कर संलग्न करें। शादी अनुदान की सरकारी वेबसाइट पर केवल (सामान्य, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति वर्ग) के लिए है। यदि आप अन्य पिछड़ा वर्ग या अल्पसंख्यक वर्ग से आते हैं तो अपने वर्ग के कल्याण अधिकारी विभाग में जाकर इस विषय में अधिक सूचना प्राप्त करें।

कौन उठा सकता है UP Shadi Anudan का लाभ?

sspy shadi anudan योजना का लाभ लेने के लिए, आवेदक को सभी योग्यता शर्तों को पूरा करना होगा। योग्यता मानदंडों को पूरा किए बिना, आवेदक इस विवाह हेतु अनुदान (vivah hetu anudan) की योजना के लिए सक्षम नहीं हो सकता है। योग्यता की शर्तें हैं-

  1. UP Shadi Anudan योजना में आवेदन के लिए प्रदेश का स्थायी निवासी होना जरूरी है।
  2. गरीबी रेखा के नीचे रहने वाले सभी परिवार की बेटियों के लिए इस योजना का लाभ उपलब्ध है।
  3. बेटी की उम्र 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए। 18 साल से कम उम्र की लड़कियां यूपी शादी अनुदान योजना के लिए पात्र नहीं हैं
  4. ओबीसी आवेदक को जाति प्रमाण पत्र की आवश्यकता होती है
  5. आवेदक , जो वृद्धावस्था पेंशन / विकलांग पेंशन / निराश्रित विधवा पेंशन और समाजवादी पेंशन प्राप्त कर रहे हैं, उन्हें आय प्रमाण पत्र की आवश्यकता नहीं होगी
  6. योजना का लाभ सिर्फ उन्हीं बेटियों को मिलता है, जिनके परिवार की सालाना आय बहुत कम है। ग्रामीण क्षेत्रों में इसे 46,080 रुपये, जबकि शहरी क्षेत्रों 56,460 रुपये से कम होना चाहिए।

आवेदन पत्र भरने हेतु महत्त्वपूर्ण दिशा निर्देश-

Kanya Vivah Yojna के लिए आवेदन पत्र वेबसाइट पर उपलब्ध है। आवेदन फॉर्म भरने से पहले, आवेदक को आवेदन पत्र के लिए महत्वपूर्ण दिशानिर्देश पढ़ना होगा। गाइडलाइन ने सामान्य, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति वर्ग और अन्य पिछड़ा वर्ग और अल्पसंख्यक श्रेणी को विभाजित किया है।

सामान्य, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति वर्ग के लिए

  • सर्वप्रथम आप www.shadianudan.upsdc.gov.in की वेबसाइट खोलें।
  • आपके सामने विवाह हेतु अनुदान का वेबपेज खुल जाएगा, जिसके अंतर्गत आप आवेदन का पंजीकरण करने के लिए अपने वर्ग पर क्लिक करें।
  • सभी एंट्रीज़ अंग्रेज़ी भाषा में भरी जाएगी।
  • आश्रित लाभार्थी का फ़ोटो तथा हस्ताक्षर/ अँगूठे का निशान केवल jpeg file में ही होना चाहिए, वो भी 40KB से ज़्यादा की नहीं।
  • आवेदन पत्र को नियमानुसार भर कर, उसे सबमिट करें, एवं प्राप्त प्रिंट की कॉपी के साथ सभी प्रमाणित दस्तावेज़ की फ़ोटो कॉपी लगा कर 30 दिनों के अंदर ज़िला समाज कल्याण अधिकारी कार्यालय में जमा करा कर रसीद प्राप्त करें।
  • आवेदक द्वारा केवल राष्ट्रीयकृत बैंक के खाते ही मान्य होंगे, किसी भी ज़िला सहकारी बैंक का खाता PFMS (सार्वजनिक वित्तीय प्रबंधन प्रणाली) पोर्टल पर स्वीकृत नही किया जाएगा, यदि आवेदक द्वारा ज़िला सहकारी बैंक के खाते इस योजना में दिए जाते है तो ऐसे आवेदक को ज़िला समाज कल्याण अधिकारी द्वारा अस्वीकृत कर दिया  जाएगा।

अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए

  • इस वर्ग में सभी पॉइंट उपरोक्त सामान्य, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति वर्ग जैसा ही है।
  • आवेदक को तहसील द्वारा ऑनलाइन निर्गत जाति/ आय प्रमाण पत्र का रजिस्ट्रेशन नम्बर ऑनलाइन आवेदन पत्र में अंकित करना होगा।
  • शादी अनुदान हेतु पहले आओ पहले पाओ सिद्धांत के अनुसार, बजट की तय सीमा तक ही आवेदन पत्रों पर नियमानुसार अनुदान राशि का भुगतान किया जाएगा।
  • वित्तीय वर्ष की समाप्ति के बाद पिछले वर्ष की कोई भी माँग अगले वित्तीय वर्ष में आगे नही रखी जाएगी।

अल्पसंख्यक वर्ग के लिए

  • इस वर्ग में सभी पॉइंट उपरोक्त सामान्य, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति वर्ग जैसा ही है।
  • इस आवेदन पत्र द्वारा अल्पसंख्यक समुदाय (सभी मुस्लिम, सिख, ईसाई, बौद्ध, पारसी एवं जैन धर्म) के गरीब परिवार अपनी पुत्रियों की शादी हेतु अनुदान राशि योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकते हैं।

Shadi Anudan Form In PDF

age-verification-form

UP Shadi Anudan Application Status कैसे चेक करें

UP Shadi Anudan योजना के लिए आवेदन फॉर्म जमा करने के बाद, आवेदक Vivah Anudan status check यानि अपने फॉर्म की स्थिति की जांच कर सकता है। जांच करने के लिए प्रक्रिया सीधी है। सरकारी वेबसाइट www.shadianudan.upsdc.gov.in पर जाएं, इसके पश्चात “आवेदन पत्र की स्थिति” पर क्लिक करें।

आवेदन पत्र की स्थिति

इसके पश्चात आपको एक फॉर्म प्रदर्शित होगा जिसमें आप एप्लीकेशन नंबर, बैंक अकाउंट नंबर, पासवर्ड और नीचे दिए गए पांच अंक भरकर “Login” करें और उसके बाद आप अपनी फॉर्म की स्थिति देख सकते हैं।

 Login पर क्लिक करें।

Shadi Anudan Helpline Number

UP Shadi Anudan वेबसाइट ने तीन हेल्पलाइन नंबर दिए हैं। आवेदक की श्रेणी के आधार पर संख्याओं को वर्गीकृत किया गया है। इस हेल्पलाइन नंबर के माध्यम से, एक आवेदक प्राधिकरण से सीधे संपर्क कर सकता है।

1सामान्य, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति श्रेणी18004190001
2अन्य पिछड़ा वर्ग श्रेणी18001805131, 05222288861
3अल्पसंख्यक वर्ग श्रेणी05222286199

शादी अनुदान योजना से संबंधित कुछ प्रश्न उत्तर

अपने सभी सत्यापित दस्तावेज़ों को, अपने वर्ग के ज़िला कल्याण विभाग के अधिकारी से संपर्क करना चाहिए।

हाँ जमा करना बहुत जरूरी है, आवेदन किया हुआ प्रिंट और अपने सभी दस्तावेजों को समाज कल्याण विभाग में जमा नहीं कराएंगे तो आपको इस योजना का लाभ नहीं मिल पाएगा।

आवेदन किया हुआ प्रिंट को समाज कल्याण विभाग में 10 से 15 दिन के भीतर जमा कराना होता है।

शादी के बाद आपको 90 दिनों के अंदर आवेदन करने की आवश्यकता हैं। 90 दिनों के पश्चात् आपका आवेदन को स्वीकार नहीं किया जायगा।

गरीबी रेखा के नीचे रहने वाले सभी परिवार की बेटियों के लिए इस योजना का लाभ उपलब्ध है।

पैसा खाते में आता है लेकिन इसकी एक प्रक्रिया है सबसे पहले आपके आपके ग्राम विकास अधिकारी और ग्राम प्रधान द्वारा इसका सत्यापन कराया जाता है उसके बाद ही आवेदन की राशि बैंक खाते में भेजी जाती है |

सरकार सर्वप्रथम यह चेक करती है कि आवेदक उत्तरप्रदेश का निवासी है या नहीं। वार्षिक आय की लिमिट, आवेदक की पुत्री की आयु 18 वर्ष से कम तो नहीं है।

शेयर करे

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top