राजस्थान सरकार नागरिकों के हितों को ध्यान में रखते हुए कई योजनाएं चला रही है। जिनमें से एक है RAJSSP या सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना है। इस योजना के तहत, सरकार का लक्ष्य राज्य के बुजुर्गों, गरीबों, विकलांगों या बेसहारा, विधवा, तलाकशुदा को पेंशन देकर वित्तीय सहायता प्रदान करना है। इस तरह यह लोगों को स्वतंत्र बनाकर उनकी आजीविका के लिए प्रयास कर रहा है।

यह योजना राजस्थान में लोगों के कल्याण और सशक्तिकरण को ध्यान में रखती है। यह योजना ऐसे लोगों की सामाजिक सुरक्षा और आत्म-सम्मान को बनाए रखने में मदद करती है जो वे खो रहे हैं। केंद्र और राज्य सरकार दोनों द्वारा विकसित विभिन्न RAJSSP योजनाओं का गठन करता है। इस योजना के बारे में सभी विवरणों के लिए, इस लेख को पढ़ना जारी रखें।

राजस्थान सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना का उद्देश्य

राजस्थान सरकार द्वारा पेंशन योजना के अनुसार, राज्य के बड़े और गरीब लोगों को मासिक राशि दी जाती है ताकि उन्हें कुछ वित्तीय सुरक्षा प्रदान की जा सके ताकि वे अपनी बुनियादी जरूरतों को पूरा कर सकें। राजस्थान सरकार द्वारा इस पहल का उद्देश्य। राज्य के प्रत्येक जरूरतमंद नागरिक को यह वित्तीय सुरक्षा प्रदान करना है।

RAJSSP की पेंशन और योग्यता

यह जांच लें कि आप RAJSSP Portal पर योग्य हैं या नहीं। आप जिस योजना के लिए आवेदन करना चाहते हैं, उसके लिए योग्यता की जांच कर सकते हैं।

केन्द्रीय सरकार द्वारा योजनाएँ

क्र.योजनायोग्यतालाभ
1इंदिरा गांधी राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन
(IGNOAPS)
60 वर्ष से अधिक आयु के महिला और पुरुष

वार्षिक आय- गरीबी रेखा से नीचे (BPL)

  • 60-75 वर्ष की आयु के लोगों को ₹750 प्रति माह
  • अधिक आयु वाले लोगों को ₹1000 प्रति माह
2इंदिरा गांधी राष्ट्रीय विधवा पेंशन
(IGNWPS)
विधवा महिलाएं जिनकी उम्र 40 वर्ष से अधिक है

वार्षिक आय- गरीबी रेखा से नीचे (BPL)

  • 40-55 वर्ष की आयु की महिलाओं को ₹500 प्रति माह
  • 55-60 वर्ष की आयु की महिलाओं को ₹750 प्रति माह
  • 60- 75 वर्ष की आयु की महिलाओं को ₹1000 प्रति माह
  • 75 वर्ष से अधिक उम्र की महिलाओं को ₹1500 प्रति माह
3इंदिरा गांधी राष्ट्रीय विकलांग पेंशन
(IGNDPS)
18 वर्ष से अधिक आयु के 80% विकलांग
महिला और पुरुष आवेदक

वार्षिक आय- गरीबी रेखा से नीचे (BPL)

  • 18 से 55 वर्ष की महिलाओं व 18 से 58 वर्ष के पुरुषों को ₹750
  • 55 से 75 वर्ष की महिलाओं व 58-75 वर्ष के पुरुषों को ₹1000
  • 75 वर्ष से अधिक आवेदकों को ₹1250 प्रति माह
  • सभी उम्र के कुष्ठ रोग मुक्त आवेदक को ₹1500 प्रति माह

राज्य सरकार द्वारा योजनाएँ

क्र.योजनायोग्यतालाभ
1मुख्यमंत्री वृद्धावस्था सम्मान पेंशन
(SOAPS)
55 वर्ष की आयु से अधिक की महिलाएं और
58 वर्ष की आयु से अधिक पुरुष

वार्षिक आय- ₹48000 से कम

  • 75 वर्ष से कम उम्र के लोगों को ₹750 प्रति माह
  • 75 वर्ष या उससे अधिक उम्र के लोगों को ₹1000 प्रति माह
2मुख्यमंत्री एकलनारी सम्मान पेंशन
(SWPS)
18 वर्ष या उससे अधिक आयु की
विधवा / तलाकशुदा/ परित्यक्त महिला

वार्षिक आय- ₹48000 से कम

  • 18-55 वर्ष से कम आयु की महिलाओ को ₹500 प्रति माह
  • 55-60 वर्ष की आयु की महिलाओ को ₹750 प्रति माह
  • 60-75 वर्ष की आयु की महिलाओ को ₹1000 प्रति माह
  • 75 वर्ष या उससे अधिक आयु की महिलाओ को ₹1500 प्रति माह
3मुख्यमंत्री योग्यजन सम्मान पेंशन
(SDPS)
किसी भी आयु का विशेष योग्यजन जिसकी
निशक्तता 40% या उससे अधिक की विकलांगता,

प्राकृतिक रूप से बोन- 3 फीट 6 इंच से कम,

हिजड़ापन से ग्रसित

वार्षिक आय- ₹60000 से कम

  • 55 वर्ष तक की महिलाओं व 58 वर्ष तक के पुरुषों के लिए ₹750
  • 55 से 75 वर्ष की महिलाओं व 58-75 वर्ष के पुरुषों को ₹1000
  • 75 वर्ष से अधिक आवेदकों को ₹1250
  • सभी उम्र के कुष्ठ रोग मुक्त आवेदक को ₹1500
4लघु और सीमांत किसान वृद्धा पेंशन
(SMFOPS)
55 वर्ष और उससे अधिक आयु की महिलाएं और
58 वर्ष और उससे अधिक आयु के पुरुषलघु और सीमांत किसानों की परिभाषा राष्ट्रीय
खाद्य सुरक्षा अध्यादेश 2013 के तहत खाद्य और
नागरिक आपूर्ति विभाग राजस्थान सरकार के
परिपत्र 31/08/13 अनुरूप
  • 75 साल से कम उम्र के लोगों को ₹750
  • 75 साल से अधिक उम्र के लोगों को ₹1000

RAJSSP Scheme के लिए आवेदन कैसे करें?

RAJSSP योजना के लिए आवेदन प्रक्रिया नीचे दी गई है। इससे पहले आप आवेदन के लिए आवश्यक दस्तावेजों की सूची जाना सुनिश्चित करें-

RAJSSP के लिए आवश्यक दस्तावेज़

  • पहचान पत्र
  • आय प्रमाण
  • भामाशाह आईडी (Link)
  • बैंक खाता विवरण
  • जन्म प्रमाणपत्र

SSP Rajasthan Offline आवेदन

RAJSSP के तहत पेंशन योजना के लिए आवेदन करने के लिए आपको अपने निकटतम सार्वजनिक एसएसओ केंद्र पर जाना होगा। आवेदन पत्र भरने के लिए आपको ऊपर बताए गए दस्तावेजों को अपने साथ रखना होगा। वहां के अधिकारी आपको आवेदन प्रक्रिया में सहायता करेंगे

Ssp Rajasthan

जैसा कि ऊपर दिखाया गया है, आपका आवेदन कई सत्यापन चरणों से गुजरेगा। सबसे पहले आपको अपने क़रीबी Sub Divisional Officer / Block Development Officer के पास जाना होगा। वह जाके RAJSSP Application Form ले आए या दिए गए लिंक से डाउनलोड करके प्रिंट आउट ले कर भरे। फॉर्म को भरने के बाद ऊपर बताए गए सभी दस्तावेजों के साथ Tehsildar या Naib Tehsildar को अप्प्रोवल के लिए दे। अब सब वेरिफिकेशन के बाद आपका फॉर्म Disposal Authority को भेज दिया जायेगा। अगर आपका फॉर्म एक्सेप्ट हो जाता है तोह आपको मासिक पेंशन सीधा आपके खाते में आने लगेगी।

अपने RAJSSP status अपने देंखे

  • सबसे पहले आपको rajssp portal पर जाना होगा। अब आपके होम पेज पर आपको “Reports” का विकल्प दिखेगा, जिसको क्लिक कर दे। इसके बाद आपको Pensioner Online Status पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद आपको, अपना Application No. और Captcha Code डाल के Show Status पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपकी सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना का स्टेटस आपके सामने होगा। rajssp status देखने से पता चलेगा कि पेंशन आ रही है या नहीं। यदि आ रही है तो कौनसे खाते में पेंशन आ रही है।

RAJSSP status पर अपनी शिकायत दर्ज़ करे 

  • सबसे पहले आपको rajssp portal पर जाना होगा। अब आपके होम पेज पर आपको “Reports” का विकल्प दिखेगा, जिसको क्लिक कर दे। इसके बाद आपको Pensioner Complaint पर क्लिक करना है।
  • अब पूछी गयी सारी जानकारी भर दे और Save पर क्लिक कर दे।
  • अब आप की Complaint दर्ज़ कर ली जाएगी और इसका समाधान जल्द से जल्द किया जाएगा।

RAJSSP से संबंधित पूछे गए प्रश्न

Raj SSP E-Mitra पर दो सेवा है (1. पेंशन पंजीकरण 2. पेंशन वार्षिक सत्यापन)

  • यदि आप पेंशन पंजीकरण सेवा चुनते हैं तो केवल पेंशनभोगी प्रवेश में सक्षम होंगे।
  • यदि आप पेंशनर वार्षिक सत्यापन सेवा चुनते हैं तो केवल पेंशनभोगी वार्षिक सत्यापन में सक्षम होंगे।

कृपया ध्यान दें कि आपने किस सेवा को चुना है।

कृपया अपना डिवाइस पंजीकृत या पंजीकृत नहीं है, यदि आपका डिवाइस पंजीकृत नहीं है, तो पहले आरडी सेवा के लिए अपना डिवाइस पंजीकृत करें। उसके बाद डिवाइस ड्राइवर स्थापित करें और Rd सर्विस और स्टार्ट Rd सर्विस को चेक करें। फिर सिस्टम री-स्टार्ट करें।

आधार और खाता संख्या केवल एक बार दर्ज की जा सकती है यदि पेंशनर आधार और खाता संख्या किसी अन्य पेंशनभोगी के साथ जोड़ा गया है तो आधार और खाता संख्या को पहले अपडेट करें और उसके बाद पेंशनर को जोड़ें।

कृपया उस कारण को देखें जो आपने विवरणों में भरा नहीं है और विवरणों को पूरा करने के बाद, पेंशनर का विवरण पूर्ण रिकॉर्ड में दिखाई देगा।

पहले भामाशाह पोर्टल पर वैवाहिक स्थिति बदलें फिर भामाशाह पोर्टल पर परिवर्तन के बाद आप पेंशन प्राधिकरण को पेंशन योजना में परिवर्तन कर सकते हैं।

आप पेंशनभोगी बैंक खाता विवरण को तीन सफल भुगतान से पहले संवितरण प्राधिकरण से बदल सकते हैं, तीन सफल भुगतान बैंक खाता विस्तार के बाद केवल राज्य-कोष अधिकारी के लॉगिन के द्वारा ही बदला जा सकता है।

शेयर करे

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top