भारत की बात करे तो भारत में एक खेल सबसे ज्यादा प्रसिद्ध है वो हैं क्रिकेट, जिस समय क्रिकेट शुरू होता है उस समय सभी लोग इंडिया के सपोर्ट में लग जाते है। कुछ लोग जोश के साथ सपोर्ट करते है कुछ लोग भगवन से प्रार्थना कर के सपोर्ट करते है।

इंडिया टाइम्स के अनुसार पूरी दुनिया भर में 100 करोड़ लोग क्रिकेट मैच के दीवाने है। मगर भारत की बात करे तो 133 करोड़ में से 80% क्रिकेट को पसंद करते है।

आप सभी के दिमाग में कभी ये जरूर आया होगा कि क्रिकेट के खिलाड़ी को कितने रुपए मिलते होंगे तो चलिए आज इसके बारे में जानते हैं।

खिलाड़ियों के अनुभव और पिछले 1 साल के प्रदर्शन के आधार पर पूरी टीम को चार श्रेणियों में बाटा गया है। टीम इंडिया के पुरुषों के लिए एक नई श्रेणी (A+) शुरू की गई है। भारतीय क्रिकेटरों की सैलरी को अब चार श्रेणियों में बांटा गया है –

समयावधि ग्रेड A + ग्रेड A ग्रेड B ग्रेड C
अक्टूबर, 2019 से सितंबर 2020 7 करोड़ रु/साल 5 करोड़ रु/साल 3 करोड़ रु/साल 1 करोड़ रु/साल

 

भारतीय क्रिकेटरों की वेतन ग्रेड श्रेणी

भारतीय क्रिकेटरों की वेतन ग्रेड श्रेणी(Salary Grade Category of Indian Cricketers)

बीसीसीआई की सूची के अनुसार एडमिनिस्ट्रेटर की समिति (सीओए) नियुक्त की, जो अक्टूबर 2019 से सितंबर 2020 की अवधि के लिए वार्षिक खिलाड़ी के कॉन्ट्रैक्ट की घोषणा की है यहां भारतीय क्रिकेट वेतन श्रेणी की सूचीबद्ध है।

 

A + ग्रेड – 7 करोड़ रुपये/ साल

इस श्रेणी में विराट कोहली, रोहित शर्मा और जसप्रीत बुमराह शामिल हैं।

Grade S.No. Athletes Price
A+ 1 विराट कोहली 7 करोड़ रु/साल
2 रोहित शर्मा 7 करोड़ रु/साल
3 जसप्रीत बुमराह 7 करोड़ रु/साल

विराट कोहली

विराट कोहली

स्पष्ट कारणों से भारतीय कप्तान विराट कोहली कप्तान को ग्रेड A+ श्रेणी में शामिल किया गया है । कोहली टीम इंडिया के लिए अच्छा प्रदर्शन करने वालों में से एक रहे हैं। नए कॉन्ट्रैक्ट के अनुसार विराट कोहली की सैलरी ₹7 करोड़ है।

 

रोहित शर्मा

रोहित शर्मा

रोहित शर्मा (भारतीय टीम के उपकप्तान) भारतीय क्रिकेटर हैं, जिन्हें नए कॉन्ट्रैक्ट में ग्रेड A + श्रेणी मिली। रोहित ने एशिया कप 2018 में भारत को जीत दिलाई। जब भी विराट कोहली को विश्राम दिया गया तो रोहित ने पक्ष की जिम्मेदारी भी संभाली। नए कॉन्ट्रैक्ट के अनुसार रोहित की सैलरी ₹7 करोड़ है।

 

जसप्रीत बुमराह

जसप्रीत बुमराह

खिलाड़ी जसप्रीत बुमराह ने 2018 की शुरुआत में अपना टेस्ट में प्रथम प्रवेश किया और गेंदबाजी आक्रमण खिलाड़ी के रूप में विकसित हुए हैं। वह श्रेणी ग्रेड A + के तहत है। नए कॉन्ट्रैक्ट के अनुसार जसप्रीत बुमराह की सैलरी 7 करोड़ रुपए है।

 

A ग्रेड – एक साल में 5 करोड़ रुपये

इस श्रेणी में रविचंद्रन अश्विन, रवींद्र जडेजा, भुवनेश्वर कुमार, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, केएल राहुल शिखर धवन, मोहम्मद शमी, इशांत शर्मा, कुलदीप यादव और ऋषभ पंत  है।

 

Grade S.No. Athletes Price
A 1 रविचंद्रन अश्विन 5 करोड़ रु/साल
2 रवींद्र जडेजा 5 करोड़ रु/साल
3 भुवनेश्वर कुमार 5 करोड़ रु/साल
4 चेतेश्वर पुजारा 5 करोड़ रु/साल
5 अजिंक्य रहाणे 5 करोड़ रु/साल
6 केएल राहुल 5 करोड़ रु/साल
7 शिखर धवन 5 करोड़ रु/साल
8 मोहम्मद शमी 5 करोड़ रु/साल
9 इशांत शर्मा 5 करोड़ रु/साल
10 कुलदीप यादव 5 करोड़ रु/साल
11 ऋषभ पंत 5 करोड़ रु/साल

 

रविचंद्रन अश्विन

रविचंद्रन अश्विन

रविचंद्रन अश्विन को लिमिटेड ओवरों  के लिए नजर अंदाज किया गया है रविचंद्रन अश्विन अभी भी टेस्ट क्रिकेट में भारत के मुख्य व्यक्ति हैं। ऑफ स्पिनर से खेल के प्रारूप में अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं । रविचंद्रन अश्विन के प्रदर्शन को ध्यान में रखते हुए उनको श्रेणी A में रखने का फैसला किया। अश्विन की सैलरी उनके कॉन्ट्रैक्ट के हिसाब से हर साल 5 करोड़ रुपए है।

 

रवींद्र जडेजा

रवींद्र जडेजा

रवींद्र जडेजा कुछ महीने पहले तक लिमिटेड ओवर करने से क्रिकेट से बाहर थे। लेकिन एशिया कप 2018 के दौरान हार्दिक पांड्या की चोट ने उन्हें हैरान कर दिया। वह तब से लगातार 50 ओवरों की टीम के साथ हैं। इसके अलावा, दक्षिणपूर्वी भारतीय टेस्ट सेट-अप के सबसे महत्वपूर्ण सदस्यों में से एक है । उन्हें इस समय सबसे लंबे प्रारूप में सर्वश्रेष्ठ ऑलराउंडरों में से एक का दर्जा दिया गया है और टीम को बेहतरीन संतुलन जोड़ने में मदद करता है। जडेजा भी उनके कॉन्ट्रैक्ट के हिसाब से इस साल 5 करोड़ कमाएंगे।

 

भुवनेश्वर कुमार

भुवनेश्वर कुमार

एक बार ऑलराउंडर खिलाड़ी भुवनेश्वर ने पिछले कुछ महीनों में सिर्फ मुट्ठी भर खेल खेले हैं । ऑस्ट्रेलिया टेस्ट सीरीज़ के दौरान फिट इंडिया टीम में फिट होने की कोशिश की तो जगह पाने में नाकाम रहा।

बीसीसीआई ने उनके केंद्रीय कॉन्ट्रैक्ट को डाउन ग्रेड कर दिया । पिछले साल ग्रेड A + से वह अब ग्रेड A श्रेणी में उतरे हैं । इस तरह साल में 7 करोड़ रुपये के बजाय भुवनेश्वर की सैलरी साल में ₹5 करोड़ है।

चेतेश्वर पुजारा

चेतेश्वर पुजारा

चेतेश्वर पुजारा बेहद धैर्यवान हैं और उन्हें खेल का सबसे लंबा फॉर्मेट बेहद पसंद है । ऑस्ट्रेलिया में टीम इंडिया की पहली टेस्ट सीरीज जीत में उनकी अहम भूमिका थी। पुजारा घंटों तक बल्लेबाजी कर सकते हैं और काफी रन जुटा सकते हैं । वह अक्सर विपरीत परिस्थितियों में बल्लेबाजी बहुत अच्छे से कर सकता है। इसका “मॉडर्न डे वाल” के नाम से भी स्वागत किया जाता है।  पिछले साल से अपना ग्रेड A कॉन्ट्रैक्ट बरकरार रखने में कामयाब रहा और उसे ₹5 करोड़ का भुगतान मिलेगा।

 

अजिंक्य रहाणे

अजिंक्य रहाणे

अजिंक्य रहाणे पिछले साल से सर्वश्रेष्ठ फॉर्म में नहीं रहे हैं । विदेशों में खेलना उनके प्रधान गुण माना जाता था, एक बड़ी चुनौती सामने आने के बाद मनोबल समाप्त हो गया है।

हालांकि रहाणे कड़ी मेहनत करने वाले क्रिकेटर हैं और हमेशा अपने खेल को बेहतर बनाने के लिए प्रयासरत रहते हैं। कॉन्ट्रैक्ट की ग्रेड A श्रेणी में वह ₹5 करोड़  कमाएंगे।

केएल राहुल

केएल राहुल

केएल राहुल के पास 2018 की दूसरी छमाही में एक कठिन समय था। दाएं हाथ से गेंद डालने के लिए संघर्ष किया था। कई अवसरों को प्राप्त करने के बावजूद, वह प्रसाशन द्वारा खुद पर विश्वास कराने में असफल रहे। । इसके अलावा, अपमान के रूप में घाव लेके घूम रहे थे क्योकि उन्होंने एक टिप्पणी कर के एक बहुत बड़ी मुसीबत को गले लगा लिया था जो उन्होंने टॉक शो “कॉफ़ी विद कारन” पर बोला था।

इस तरह उन्हें क्रिकेट से खेलने के लिए निलंबित कर दिया गया था । हालांकि, केएल राहुल बल्लेबाज काफी भाग्यशाली रहे जो निलंबन हटाए जाने के बाद भारतीय टीम में अपनी जगह वापस मिल गई । वह हर अवसर को पहले की तुलना में बहुत अधिक महत्व देता है । केएल राहुल इसी कॉन्ट्रैक्ट को बरकरार रखने में सफल रहे, जैसा कि पिछले साल था। वह प्रति वर्ष 5 करोड़ रुपये कमाएंगे।

शिखर धवन

शिखर धवन

शिखर धवन वो खिलाड़ी हैं जिन्होंने अपनी परफोमेन्स को लेकर काफी संघर्ष किया है। बाएं हाथ के बल्लेबाज बेहद भिन्न रहे हैं और पहले की तरह अपनी क्षमता साबित करने में नाकाम रहे हैं । इसके चलते धवन को भी टेस्ट टीम से पीछे खींच लिया गया। यही कारण है कि उनके श्रेणी से ग्रेड A श्रेणी में डाउनग्रेड कर दिया गया । शिखर की सैलरी साल में ₹5 करोड़ की है।

 

मोहम्मद शमी

मोहम्मद शमी

मोहम्मद शमी ने पिछले कुछ महीनों में अपनी प्रतिभा को फिर से खोज लिया है और खूबसूरती से प्रदर्शन कर रहे हैं । उन्होंने अपने प्रदर्शन में सुधार के लिए काफी वजन घटाया और जो कड़ी मेहनत की थी, वह अब पुरस्कार दे रही है । शमी को लिमिटेड ओवरों की टीम के लिए ज्यादा बार नजरअंदाज नहीं किया गया।

लेकिन, इस प्रदर्शन के साथ ही निश्चित रूप से विश्व कप टीम में अपनी जगह पर मुहर लगा दी है । वह नियमित विकेट ले रहे हैं और रन भी सीमित दे रहे हैं । शमी इस समय खेल के दो प्रारूपों में खेल रहे हैं और इसलिए इस साल उनका कॉन्ट्रैक्ट बढ़ाया गया। शमी भी हर साल ₹5 करोड़ की कमाई करेंगे।

इशांत शर्मा

इशांत शर्मा

भारतीय तेज गेंदबाज इशांत शर्मा अपनी गेंदबाजी से सभी को खुश रखते हैं। वह काफी प्रतिभाशाली हैं और काफी कुछ सालों से सबके दिलो पर राज कर रहे हैं।  इशांत ने हमेशा निरंतरता बनाए रखने के लिए संघर्ष किया। क्योंकि उस समय उपलब्ध सर्वोत्तम विकल्पों में से एक था। इस तरह पिछले साल उनका कॉन्ट्रैक्ट ग्रेड B से ग्रेड ए में अपग्रेड किया गया था । दिल्ली के क्रिकेटर अब हर साल 5 करोड़ रुपए की कमाई करेंगे ।

 

कुलदीप यादव

कुलदीप यादव

कुलदीप यादव अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में तेजी से प्रगति कर रहे हैं। कुलदीप यादव अपनी गेंदबाज से भारत के पहले चाइनामैन गेंदबाज बने है। पूरी दुनिया में बल्लेबाज और स्पिन के अच्छे खिलाड़ी भी कुलदीप के परिवर्तन को सुलझा नहीं पाए हैं ।

उसकी कलाई की स्थिति में जादूई मतभेद हैं यादव बेहद चालाक खिलाडी हैं और तीनों प्रारूपों में भारतीय टीम का हिस्सा रहे हैं । इसी परिणाम  द्वारा वह श्रेणी ग्रेड A में शामिल है, अब 3 करोड़ रुपये से 5 करोड़ रुपये हुआ है।

ऋषभ पंत

ऋषभ पंत

ऋषभ पंत ने इंग्लैंड दौरे के दौरान टेस्ट टीम में चुने जाने के बाद से अब तक के उच्चतम स्तर पर बहुत प्रभाव डाला है । उन्होंने अपनी विकेट कीपिंग तकनीक पर काफी काम किया है और अब कंप्लीट क्रिकेटर हैं । पहले इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट क्रिकेट में एक-एक शतक लगा चुका है।

इन प्रदर्शन के साथ उन्होंने टेस्ट टीम में अपनी जगह मजबूत कर ली होगी । सफेद गेंद के क्रिकेट में हालांकि वह थोड़ा नौसिखिय रहे हैं।  पंत को अपने करियर में पहली बार केंद्रीय कॉन्ट्रैक्ट की पेशकश की गई है और उन्हें सीधे ग्रेड A में किया गया है । ऋषभ नए अनुबंध के अनुसार प्रति वर्ष 5 करोड़ रुपये कमाएंगे।

 

B ग्रेड – 3 करोड़ रुपये एक साल

इस श्रेणी में रिद्धिमान साहा, उमेश यादव, युजवेंद्र चहल और हार्दिक पांड्या, मयंक अग्रवाल शामिल हैं।

Grade S.No. Athletes Price
B 1 रिद्धिमान साहा 3 करोड़ रु/साल
2 उमेश यादव 3 करोड़ रु/साल
3 युजवेंद्र चहल 3 करोड़ रु/साल
4 हार्दिक पांड्या 3 करोड़ रु/साल
5 मयंक अग्रवाल 3 करोड़ रु/साल

 

C ग्रेड – एक साल में 1 करोड़ रुपए

इस वर्ग में केदार जाधव, नवदीप सैनी, दीपक चाहर, मनीष पांडे, हनुमा विहारी, शार्दुल ठाकुर, श्रेयस अय्यर और वाशिंगटन सुंदर शामिल हैं।

 

Grade S.No. Athletes Price
C 1 केदार जाधव 1 करोड़ रु/साल
2 नवदीप सैनी 1 करोड़ रु/साल
3 दीपक चाहर 1 करोड़ रु/साल
4 मनीष पांडे 1 करोड़ रु/साल
5 हनुमत विहारी 1 करोड़ रु/साल
6 शार्दुल ठाकुर 1 करोड़ रु/साल
7 श्रेयस अय्यर 1 करोड़ रु/साल
8 वाशिंगटन सुंदर 1 करोड़ रु/साल

 

शेयर करे

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top